• roshan hindu posted an update 3 weeks, 3 days ago

    ऋषि पराशर द्वारा प्रणीत विष्णु पुराण वैष्णव महापुराण है। जो सब पातकों का नाश करने वाला है। इसमें भूगोल, ज्योतिष, कर्मकाण्ड, राजवंश और श्रीकृष्ण-चरित्र आदि बहुत सारे प्रंसगों का वर्णन किया गया है। सुखी और वैभवशाली जीवन का निर्वाह करने की इच्छा रखने वाले महिला-पुरूष को इसमें बताई गई बातों का ध्यान रखना चाहिए। कुछ ऐसे काम हैं जिन्हें लंबा नहीं खींचना चाहिए बल्कि समय रहते खत्म कर लेना चाहिए।

    * निरोगी और खूबसूरत काया के लिए अवश्यक है प्रतिदिन स्नान करना। स्नान करते समय यदि कुछ बातों को जहन में रखा जाए तो निरोगी और खूबसूरत काया के साथ साथ बहुत से शुभ फलों की प्राप्ति कि जा सकती है जैसे लक्ष्मी कृपा, कुशाग्र बुद्धि और चमकती दमकती त्वचा। सुबह सवेरे सूर्य उदय से पूर्व तारों की छाया में नहाने से अलक्ष्मी, परेशानियों और बुरी शक्तियों से मुक्ति पाई जा सकती है। स्नान करते समय गुरू मंत्र, स्तोत्र, कीर्तन, भजन या भगवान के नाम का जाप करें ऐसा करने से अक्षय पुण्यों की प्राप्ति होती है। अधिक देर तक स्नान करने से स्वास्थ्य की हानि होती है।

    * जीवनशैली में पर्याप्त नींद मिलना भी एक ऐश्वर्यशाली चीज बन गया है । रोजाना 7 से 9 घंटे की नींद लेनी चाहिए। यदि आप लगातार कम नींद ले रहे हैं, तो आगे चलकर यह कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती है। शास्त्रों में कहा गया है कि सुबह जल्दी उठना चाहिए और रात को जल्दी सोना चाहिए दिन में केवल बीमार व्यक्ति ही नींद व आराम कर सकते हैं अन्य लोगों के लिए शास्त्रों में इसकी मनाही है।

    * सुबह और गोधूली के समय मैथुन नहीं करना चाहिए। अधिक देर तक संबंध बनाने से महिला-पुरूष को असाध्य रोग होने का खतरा बना रहता है।

    * सूर्योदय से पूर्व उठना शास्त्र सम्मत ही नहीं है बल्कि स्वास्थ्य और समृद्घि के लिए भी अच्छा है। सुबह देर तक सोने से शरीर में रोग और शोक अपना बसेरा बना लेते हैं।जहां रोग और शोक होगा वहां लक्ष्मी का बसेरा नहीं हो सकता।

    इन नियमों का पालन न करने वालों के घर में आर्थिक एवं मानसिक परेशानी बनी रहती है।